Competition exam, science, maths, general knowledge, motivational quotes, study materials, study zone

शुक्रवार, 5 फ़रवरी 2021

किरचॉफ का प्रथम और द्वितीय नियम|Kirchhoff's law in hindi

किरचॉफ के प्रथम और द्वितीय नियम (kirchhoff ke niyam) 

आज की इस पोस्ट में हम physics के महत्वपूर्ण topic किरचॉफ के विद्युत वितरण संबंधी नियम (kirchhoff law in hindi) पढ़ने वाले हैं| यदि हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगे तो कमेंट करे और पोस्ट को शेयर करे|

किरचॉफ का प्रथम और द्वितीय नियम|Kirchhoff's law in hindi
kirchhoff ke niyam

किरचॉफ का प्रथम नियम या संधि नियम (first law or junction law) :

इस नियम के अनुसार “ किसी विद्युत परिपथ के किसी भी संधि पर मिलने वाली समस्त विद्युत धाराओं का बीजगणितीय योग शून्य होता है|”

                अर्थात्    ∑I =0

इस नियम के अनुसार, संधि की ओर आने वाली विद्युत धाराएँ धनात्मक तथा संधि से दूर जाने वाली विद्युत धाराएँ ऋणात्मक ली जाती है|

चित्र (a) में किसी विद्युत संधि O पर तीर की दिशा में विद्युत धाराएँ प्रवाहित हो रही है|

( I1 , I2  और I3 धाराएँ संधि की और प्रवेश कर रही है अतः ये धनात्मक होगी| I4 , I5  और I6  धाराएँ संधि से बाहर की ओर जा रही है अतः ये ऋणात्मक होगी|) 

             I1 + I2 + I3 +(-I4 ) + (-I5 )+ ( -I6 )= 0

              I1 + I2 + I3- I4  -I5 – I6  = 0

               I1 + I2 + I3 = I4 + I5 + I6

किरचॉफ के प्रथम नियम को इस प्रकार से भी लिखा जा सकता है –“ विद्युत परिपथ के किसी संधि पर प्रवेश करने वाली समस्त विद्युत धाराओं का योग इस संधि से निकलने वाली समस्त विद्युत धाराओं के योग के बराबर होता है|”

किरचॉफ का प्रथम नियम आवेश संरक्षण के अनुकूल है|

किरचॉफ का द्वितीय नियम या बंद पाश(लूप) नियम (second law or closed loop law) :

किरचॉफ के द्वितीय नियम के अनुसार “ किसी बंद परिपथ के विभिन्न भागों में प्रवाहित होने वाली विद्युत धाराओं एवं संगत प्रतिरोधों के गुणनफलों का बीजगणितीय योग उस परिपथ में उपस्थित कुल विद्युत वाहक बलों के बीजगणितीय योग के बराबर होता है|”

            अर्थात्     ∑IR = ∑E

          चित्र (b) के अनुसार, 

  बंद परिपथ ABCDA  के लिए, 

        I1R1 + (-I2R2 ) = E1 + (-E2 ) 

        I1R1 – I2R2  = E1 -  E2

  बंद परिपथ BEFCB के लिए, 

        I2R2 + ( I1 + I2 )R3  = E2 

किरचॉफ का द्वितीय नियम ऊर्जा संरक्षण के अनुकूल है|

Class 11th , 12th physics in hindi:👇

>स्थिर वैद्युत(electrostatics) objective type question

> धारा विद्युत(current electricity) objective

गतिमान आवेश और चुंबकत्व objective

>आवेश की परिभाषा , मात्रक और विमीय सूत्र

आवेश संरक्षण और आवेश का क्वांटीकरण

विद्युत क्षेत्र, विद्युत क्षेत्र की तीव्रता, विद्युत द्विध्रुव आघूर्ण

विद्युत फ्लक्स की परिभाषा , मात्रक और विमीय सूत्र

चुंबकीय फ्लक्स की परिभाषा, मात्रक और विमीय सूत्र

विद्युत बल रेखाएं और उनके गुण

कूलॉम का नियम

विभव और विभवांतर की परिभाषा मात्रक और विमीय सूत्र

विद्युत धारा की परिभाषा ,मात्रक और विमीय सूत्र

प्रतिरोध और प्रतिरोधकता

धारिता की परिभाषा ,मात्रक और विमीय सूत्र

प्रकाश का परावर्तन और उसके नियम

प्रकाश का अपवर्तन और उसके नियम

प्रकाश का पूर्ण आंतरिक परावर्तन

दर्पण की परिभाषा ,प्रकार और उपयोग

क्रांतिक कोण की परिभाषा तथा क्रांतिक कोण और अपवर्तनांक में संबंध

> फैराडे के विद्युत चुंबकीय प्रेरण के नियम

Share:
Location: Sitamau, Madhya Pradesh 458990, India

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

biology one liner question in hindi|बायोलॉजी से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर part-3

biology one liner question in hindi|बायोलॉजी से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर part-3 आज की इस पोस्ट में हम प्रतियोगी परीक्षाओं में ...

Popular post